Best shayari of Galib – गालिब

कितना खोफ होता है शाम के अंधेरे में

पुछ उन परिंदो से जिन के घर नही होते Continue reading “Best shayari of Galib – गालिब”

Sharing is caring! Share the post to your loved ones