सुकन्या समृद्धि योजना – बनाएं बेटी का भविष्य मजबूत

सुकन्या समृद्धि योजना  Sukanya Samriddhi Yojna

भारत सरकार ने बहुत ही अच्छी योजना देश की बेटियों के लिए निकाली है | जिन के घर में भी बेटीयाँ है वो इस योजना से लाभ पा सकते है | इस योजना की शुरुआत हमारे प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने हरियाणा में “बेटी बचाओ – बेटी पढ़ाओ” कैंपेन में की थी | हर महीने बहुत ही कम पैसो को निवेश करके आप बहुत ही अच्छा फायदा इस योजना से पा सकते है | भारत सरकार ने ये कदम लड़के और लडकियों के बीच के अंतर को ख़तम करने के लिए उठाया है |

Continue reading “सुकन्या समृद्धि योजना – बनाएं बेटी का भविष्य मजबूत”

Sharing is caring! Share the post to your loved ones

कहानी एक बुजुर्ग जोड़े की -भाग ४

अभी तक आपने पढ़ा की कैसे नीरज और चित्रा मिले, कैसे उन्हें प्यार हुआ और जब उनके परिवार वालो को पता चला तो उनकी क्या प्रतिक्रिया हुई | अब पढ़िए आगे की कहानी

कहानी एक बुजुर्ग जोड़े की -भाग १ पढने के लिए यहाँ क्लिक करे

कहानी एक बुजुर्ग जोड़े की -भाग २ पढने के लिए यहाँ क्लिक करे

कहानी एक बुजुर्ग जोड़े की -भाग ३ पढने के लिए यहाँ क्लिक करे

चित्रा के घर वालो को पता लगने के बाद जैसे चित्रा पर दुखो का पहाड़ गिर पड़ा | चित्रा जहा सबकी चहेती थी वहीं सबकी नफरत की शिकार होने लगी | सभी लोग उसे कोसते और ताने मारते पर चित्रा का हौसला इससे बिलकुल भी नहीं टूटता था वो अपने निश्चय पर दृढ़ थी और किसी की बात पर उसको कोई फर्क नहीं पड़ता था | समय बीत रहा था पर उसके परिवार पर इसका कोई फर्क नहीं पड़ रहा था की चित्रा पर क्या बीत रही है उधर नीरज दूसरी नौकरी में व्यस्त हो गया था क्योकि उसके ऊपर पूरे परिवार की जिमीदारी भी थी | उसका भाई भी अब उम्र में काफी बड़ा हो गया था पर दिमाग से आज भी वैसा ही था इस लिए नीरज को उसपर विशेष ध्यान देना पड़ता था |
Continue reading “कहानी एक बुजुर्ग जोड़े की -भाग ४”

Sharing is caring! Share the post to your loved ones

Inspirational story of small boy – प्यास की कोई कीमत नहीं होती

कुछ कहानिया हमें कुछ ख़ास सीखा देती है | कुछ कहानिया आम होके भी नाम कमा लेती है | आज हम आप को एक छोटे से बच्चे की कहानी बताने जा रहे है जिसका नाम राजू था | Continue reading “Inspirational story of small boy – प्यास की कोई कीमत नहीं होती”

Sharing is caring! Share the post to your loved ones

कहानी एक बुजुर्ग जोड़े की -भाग ३

यह कहानी है एक ऐसे बुजुर्ग जोड़े की जो बचपन से साथ खेले और बड़े होते होते एक दुसरे के प्यार में पड़ गए पर भाग्य को कुछ और ही मंज़ूर था और वो बिछड़ गए और बुढ़ापे में फिर से मिले | इसमें अभी तक आप ने पढ़ा कि नीरज और चित्रा के स्वाभाव और उनके परिवार के और उनके बीच के रिश्ते और फर्क के बारे में , अब पढ़िए आगे के क्या हुआ जब चित्रा ने नीरज को अपने कमरे से निकाल दिया|

यहाँ पढ़े कहानी एक बुजुर्ग जोड़े की -भाग 1

यहाँ पढ़े कहानी एक बुजुर्ग जोड़े की -भाग 2

चित्रा के निकालने पर नीरज बिलकुल हिल सा गया था उसे गरीब-अमीर का फर्क समझ आ गया था, उसी दिन नीरज ने ठान लिया कि वो अब और मेहनत करेगा और अमीर बनकर रहेगा | उस दिन की बात तो नीरज अपने मन में रख लिया और किसी को नहीं बताया पर उसी दिन से उसने काम पर और ध्यान देने लगा और खूब मेहनत करने लगा | Continue reading “कहानी एक बुजुर्ग जोड़े की -भाग ३”

Sharing is caring! Share the post to your loved ones

कहानी एक बुजुर्ग जोड़े की -भाग २

अभी तक आपने पढ़ा नीरज के बारे में, उसके परिवार के बारे में, और उसके स्वभाव और काम के बारे में, अब पढ़िए इस कहानी के अगले किरदार यानि की उस लड़की के बारे में जो नीरज से जुड़ी हुई है |

भाग -१ को पढने के लिए यहाँ क्लिक करे

उस लड़की का नाम था चित्रा सिंह | चित्रा एक जमीदार परिवार में जन्मी थी जो पैसे में काफी संपन्न थे और उसके पिता भोला सिंह एक प्रसिद्ध व्यापारी भी थे | चित्रा के पिता एक बहुत ही कट्टर परिवार के जमीदार थे और आन मान और शान के लिए कुछ भी करने को तैयार रहते थे | चित्रा की माँ तुलसी देवी बहुत ही सात्विक स्वाभाव की थी | घरेलु काम में माहिर होने के साथ साथ वो सामाजिक कार्यो में भी काफी दिलचस्पी रखती थी | चित्रा की एक बहन भी थी जिसका नाम था आतिया सिंह वो चित्रा से २ साल बड़ी थी और एक भाई था रमेश सिंह जो चित्रा से ५ साल बड़ा था | Continue reading “कहानी एक बुजुर्ग जोड़े की -भाग २”

Sharing is caring! Share the post to your loved ones

Don’t ignore these behaviors in children – बच्चो की इन बातो को ना करे नजर अंदाज

भाई बहनो में लडाई

भाई बहनो में लडाई होती है पर वो एक सीमा तक होनी चाहिये अगर बच्चो की लडाई हद से ज्यादा हो रही है तो माता पिता को इस का ध्यान देना चाहिये उनको कोशिश करनी चाहिये कि भाई बहनो और दुसरो बच्चो में हमेशा प्यार बना रहे बच्चो के साथ ऐसे खेले कि उन्हें एक दुसरे के प्रति प्यार मह्सुस हो बच्चो को ऐसी कहानिया सुनाए जो उन्हें प्यार दुसरो की मदद कराने कि सीख दे बच्चो के साथ होए Continue reading “Don’t ignore these behaviors in children – बच्चो की इन बातो को ना करे नजर अंदाज”

Sharing is caring! Share the post to your loved ones

CELEBRATION OF HAPPY LIFE

Stop! I am talking to you. Yes you. Hold on. Take a deep breath slowly.

You are perfect. You are fresh as child. Love yourself. Feel yourself. God loves you. You are his child. Throw out every stress. You are unique. You are special.

Don’t think about those people who are always pointing at you. It’s not necessary that every people will love us. It’s OK! It’s completely OK if few people are not like you. They are just human not God.

Respect yourself. You are everything to your parents. Your mother gave her life for your upbringing.  Love her. Give some time to her. She deserves your precious time. Share something kidish to her. Make her feel like that she is important part of your life.

Live your life as much as crazy people. Add some madness in your life. Insert some childish ingredients in your life. LAUGH as much as you can. Play like children. It’s OK if you make some mistake. You are HUMAN not ROBOT.

New Morning, New Day

But you are still Old, Why?

Nature believe in present

But you live in past, Why?

So many complaints, so many problems

Thankfulness has gone far away, why?

 

Sharing is caring! Share the post to your loved ones

Osho on children – minimum possession – freedom – awareness

Children are born innocent. Children are truth full, joy full and full of curiosity. They want only to be loved, to learn, and to contribute. This is true that Children are our future so we need to spend more time on nourishment and development of our children. Children bring freshness into the world. Children are new editions of consciousness. Children are fresh entries of divinity into life. Be respectful, be understanding. Now a day’s everyone wants to teach their children to be ahead in this competitive world. Continue reading “Osho on children – minimum possession – freedom – awareness”

Sharing is caring! Share the post to your loved ones