सुकन्या समृद्धि योजना – बनाएं बेटी का भविष्य मजबूत

sukanya samriddhi yojna

सुकन्या समृद्धि योजना  Sukanya Samriddhi Yojna

भारत सरकार ने बहुत ही अच्छी योजना देश की बेटियों के लिए निकाली है | जिन के घर में भी बेटीयाँ है वो इस योजना से लाभ पा सकते है | इस योजना की शुरुआत हमारे प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने हरियाणा में “बेटी बचाओ – बेटी पढ़ाओ” कैंपेन में की थी | हर महीने बहुत ही कम पैसो को निवेश करके आप बहुत ही अच्छा फायदा इस योजना से पा सकते है | भारत सरकार ने ये कदम लड़के और लडकियों के बीच के अंतर को ख़तम करने के लिए उठाया है |

सुकन्या समृद्धि योजना के लिए बेटी के नाम से अकाउंट (Account) जरुरी है

आप को इस योजना के लिए एक अकाउंट (Account) खोलना होगा | ये अकाउंट आप बेटी के नाम से खोलेंगे और आप अकाउंट बेटी के जन्म से लेकर उसके 10 साल की उम्र तक ही खोल सकते है | आप सुकन्या समृद्धि योजना के लिए अकाउंट किसी भी पोस्ट ऑफिस या कमर्शियल बैंक (Commercial bank) में खोल सकते है | अगर आप सुकन्या समृद्धि योजना खाता पोस्ट ऑफिस में खोलते है तो आप को पास बुक मिलेगी यदि आप बैंक में खाता खोलते है तो आप को अकाउंट नंबर दिया जाएगा | एक बेटी के लिए आप एक ही खाता खोल सकते है | बेटी का भारत (India) में होना जरुरी है, ये खाता NRI के लिए नहीं खोला जा सकता | आप ये खाता ट्रान्सफर (Transfer) भी करवा सकते है अगर आप की बेटी किसी और राज्य में चली गई हो तो |

Read more : हिंदी दिवस की शुभकामनाएं – गर्व से बोले अपनी भाषा

सुकन्या समृद्धि योजना का खाता खोलवाने के लिए कौन से  Documents बैंक में जमा करवाने होंगे

खाता खोलने के लिए आप को बेटी का जन्म प्रमाण पत्र बैंक में देना होगा |

सुकन्या समृद्धि योजना के खाते में जो व्यक्ति पैसा जमा करवाएंगा उसका परिचय पत्र

जमा करता का address proof जमा करवाना होगा |

ये तीनो documents सुकन्या समृद्धि योजना के खाता खोलवाने के लिए जरुरी है |

Read more : नेटवर्क मार्केटिंग – नए जमाने का नया व्यापार

हर साल कितना निवेश करना होगा

पहला निवेश आप को 1000 रूपये का करना होगा और बाद में एक साल में आप अकाउंट में कम से कम 1000 रूपये की राशि और ज्यादा से ज्यादा 1.5 लाख तक की राशि जमा कर सकते है | जिस दिन आपने अकाउंट (Account) खोला से लेकर 14 साल तक ही आप उस अकाउंट में निवेश कर सकते है | यदि आप हर साल कम से कम 1000 रूपये अकाउंट में नहीं डाल पाए तो आप को 50 रूपये एक साल पर जुर्माने के रूप में देने होंगे साथ में आप को 1000 रूपये भी जमा करने होंगे | आप ये धन राशि कैश (cash) के रूप में या चेक (Cheque) या बैंक ड्राफ्ट (bank draft) पोस्ट मास्टर के नाम से या बैंक के मेनेजर (Manager) के नाम से दे सकते है | आप को चेक में और बैंक ड्राफ्ट में उस दिन की तिथि (Date) डालनी है जिस दिन आप चाहते है आप की धन राशि आप के अकाउंट में निवेश हो | ब्याज आपको सालाना मिले या हर महीने मिले ये आप का फैसला होगा जो की खाता खुलवाते वक़्त आप ये विकल्प चुन सकते है |

 

इस खाते की मैच्योरिटी (Maturity) कब होगी

खाता खोलने से लेकर 21 साल तक या बेटी की शादी के बाद ये स्कीम mature हो जाएगी जो भी पहले हो | यदि बेटी की शादी उसके 21 साल से पहले होती है तो उस बेटी के नाम से एक affidevit देना होगा जो इस बात का प्रमाण होगा की वे बेटी 18 साल की या उस से अधिक है| अगर बेटी की पढाई के लिए आप को पैसा निकलवाना है तो आप आधा पैसा निकलावा सकते है लेकिन बेटी का 18 साल का होना जरुरी है | जब सुकन्या समृद्धि योजना शुरू की थी तब 9.2% दर से ब्याज देने की घोषणा की थी मगर ये दर मार्किट के हिसाब से बदलती रहती है | जो भी दर की सरकार घोषणा करेगी उस दर के हिसाब से हर साल का ब्याज मूल के साथ जुड़ता रहेगा और 21 साल के बाद सब जुड़ कर आप को मिलेगा |

 

किन हालातो में मैच्योरिटी से पहले खाता बंद हो सकता है

अगर गर्ल चाइल्ड (बेटी) की मृत्यु हो जाती है तो आप उनका डेथ सर्टिफिकेट (Death certificate) दिखा कर खाता को बंद करा सकते है | खाते में जमा राशि ब्याज के साथ बच्ची के माता पिता को दे दी जाएगी | अगर कोई भयंकर बीमारी बच्ची को हो जाए तो एसे हालात में भी खाते को बंद किया जा सकता है |

Sharing is caring! Share the post to your loved ones

Leave a Reply

Your email address will not be published.