Positive Thinking : Myths & Magic – in Hindi : सकारात्मक सोच का जादू

positivethinking

Positive Attitude क्या है

हर कोई जीवन में successful होना चाहता है पर successful होने के लिए आप को अपने अंदर Positive Attitude को develop करना होगा | जो भी इस दुनिया में successful हुआ है चाहे वो Hrithik Roshan हो या फिर P.M. Modi सबने Positive Attitude को जरुरी बताया है |

जीवन में अगर हमे आगे बडना है तो हमे Positive Attitude को करीब से जानना होगा | Positive Attitude को जानने के लिए आप को Positive Thinking को समझना होगा | Positive Thinking बहुत ही जरुरी role अदा करती है हमारे अंदर Positive Attitude को develop करने के लिए | बहुत ही कम लोग है जो Positive Thinking के बारे में सही जानकारी रखते है |

गलत धारणा Positive Thinking के बारे में – Wrong perception about Positive Thinking

  1. जैसा हम सोचते है वैसा ही होगा |
  2. जो पाना चाहते है उसके बारे में सोचते रहो |
  3. हमेशा अच्छा सोचना |

ज्यादातर लोग इन तीनो को Positive Thinking मानते है जबकि ये सब गलत धारणा है Positive Thinking के बारे में |

इस article को भी जरुर पढ़े  – Magic of thoughts

हम कुछ भी करने से पहले जो सोचते है वो thoughts हमारे Thinking pattern से आते है | तीन तरह के Thinking pattern होते है :

Positive Thinking pattern :- हर situation में positive सोचना | चाहे जैसी situation हो, हमेशा ये सोचना जो भी हो रहा है वो मेरे लिए अच्छा हो रहा है इसे  Positive Thinking pattern कहते है | आप कह सकते है की Always Positive

 Negative Thinking pattern :- आपने कई लोगो को कहते हुए सुना होगा की “हमेशा मेरे साथ ही बुरा होता है” | इस तरह की सोच को Negative Thinking pattern कहते है | इस तरह के Thinking pattern हमेशा negative thoughts को जन्म देते है | आप कह सकते है Always Negative |

 Neutral Thinking Pattern : इस तरह का pattern बहुत ही कम लोगो में पाया जाता है | ज्यादातर संत और सन्यासियों में इस तरह के सोचने का तरीका पाया जाता है | ना Positive और ना Negative बिलकुल Neutral सोचना ही Neutral Thinking Pattern है | किसी भी चीज़ के बारे में बिलकुल Neutral सोचना इस pattern की खास बात है | इस तरह के Thinking Pattern को अपने अंदर develop करने के लिए  आप को Meditation करना होगा|

Positive Attitude को develop करने के लिए आप को अपने अंदर Positive Thinking को develop करना होगा | Positive Thinking सिर्फ positive सोचना ही नहीं है, इस से कई ज्यादा है | Positve सोचने के साथ साथ ये भी सोचना है की जो हो रहा है वो अच्छा हो रहा है और जो हो रहा है वो मेरे लिए positive है | यदि आप किसी situation के बारे में positive सोचते है और उसका result आप की सोच से अलग आए या कहो बिलकुल opposite आए तब भी आप ये सोच रखे की जो भी हुआ मेरे लिए अच्छा हुआ इसे कहते है Positive Thinking |

Positive Thinking होने से ये जरुरी नहीं है कि जैसा आप सोच रहे है वैसा ही आप के साथ होगा | इस का मतलब है की हर situation चाहे वो आप के लिए positive हो या negative हो आप को positive सोच ही रखनी है |

इस article को भी जरुर पढ़े – How to be Successful in Life

Magic of Positive Thinking

 Hrithik Roshan का नाम तो आपने सुना ही होगा | Super hero के नाम से मशहूर Hrithik Roshan अपने बचपन में बहुत परेशानियों से गुज़रा है | अपनी सारी परेशानियों को Hrithik Roshan ने अपनी Positive Thinking और Positive Attitude से दूर किया और तब जा के बना Super Hero | जब भी आप अपने अंदर की कमियों को दूर करते है तब जा के आप अपना Super Hero का रूप देख पाते है |

Hrithik Roshan को बचपन से हकलाने की परेशानी थी | जरा सोचिये एक Super Hero का बेटा जो ठीक से बोल भी नही पता उसे कैसा महसूस होता होगा | School में सब उसका मजाक उड़ाते थे, कई दोस्त उस का support करते थे पर कई दोस्त Hrithik Roshan को परेशान करते थे, मजाक उड़ाते थे | डॉक्टर ने ये तक कह दिया था “Hrithik Roshan कभी Hero नहीं बन पाएगा” | जरा सोचिये कैसा महसूस किया होगा Hrithik Roshan ने और उसकी family ने | Hrithik Roshan का आगे का पूरा भविष्य धुंधला सा हो गया था | अब Hrithik Roshan के पास दो रास्ते थे, एक – वे पूरी ज़िन्दगी भगवान को कोसे, दोष दे भगवान को , रोए, दुखी रहे  और दुनिया से छुप के रहे या फिर वो अपनी कमी को दूर करने के लिए महनत करे और Hope रखे आगे जो होगा अच्छा ही होगा | अपनी कमी में ध्यान न देके Hrithik Roshan ने अपनी कमी को दूर करने में ध्यान दिया | ये सब तभी हो पाया क्युकी Hrithik Roshan ने हर हाल में Positive Thinking रखी और एक Positive Attitude develop किया | आप Impossible को भी Possible कर सकते हो Positive Thinking और Positive Attitude रखने से, इसे कहते है  Magic of Positive Thinking

इस article को भी जरुर पढ़े  – Best Attitude Quotes

आप अपनी कमियों पे ध्यान न देके, अपनी कमियों को दूर करने में ध्यान दे | आज कल दुनिया में एक game बहुत चला हुआ है वे game है “Blame Game” – इस game का एक ही rule है जो भी हो रहा है आप के साथ उसका दोष दुसरे को दे दो इस से एक काम तो हो ही जाता है किसी भी angle से आप दोषी नहीं रहते है लेकिन आप के अंदर की कमी वही के वही रहती है | कमी दूर नहीं होती मगर दोष दूर हो जाता है | इस game को खेलने वाले player की हर रूप में हार ही होती है क्युकी हमें कमी को दूर करना है न की उस कमी के दोष को | किसी को दोष न देके अपनी कमी को स्वीकारे और फिर उस कमी को दूर करने के लिए Positive Thinking और Positive Attitude को develop करे

इस article को पड़ने के लिए आप का धन्यवाद | आप की advice इस article के लिए आप comment में share कर सकते है | आप की advice सर आँखों पे |

 

 

 

Sharing is caring! Share the post to your loved ones

5 thoughts on “Positive Thinking : Myths & Magic – in Hindi : सकारात्मक सोच का जादू”

  1. सफलता के बारे में आपने बहुत अच्छे से समझाया है | अच्छी सोच बहुत ही जरुरी है सफलता के लिए | धन्यवाद

  2. Hi there, You have done a fantastic job. I will definitely digg it and personally suggest to my friends. I’m confident they will be benefited from this web site.

Leave a Reply

Your email address will not be published.