Kishor Kumar: The Great Singer -किशोर कुमार ने अपने Singing Career की कैसे करी शुरुआत

Kishore-Kumar

संगीत जगत में जाना माना नाम किशोर कुमार (Kishor Kumar) की आवाज़ का जादू आज भी पूरी दुनिया में फैला हुआ है | आज भी किशोर कुमार के गाए हुए गानों का पूरा India दीवाना है | किशोर कुमार ने अपना career दिमाग से नहीं, दिल से चुना | जब भी आप कोई काम दिल से करते है तब आप जरुर उस काम में कामयाब होते है | आए जाने कैसे करी किशोर कुमार ने अपने Singing Career की शुरुआत |

किशोर कुमार के बड़े भाई अशोक कुमार हमेशा से चाहते थे कि किशोर कुमार भी उन्ही की तरह फिल्म जगत में एक मशहूर Actor बन के अपना नाम रोशन करे | मगर किशोर कुमार को acting में कुछ खास दिलचस्पी नही थी | किशोर कुमार Singing को अपना career बनाना चाहते थे पर वो अपने career को लेके serious नही थे | किशोर कुमार के Singing career को ऊचाई तक पहुचाने में Music Director एस.डी.बर्मन का बहुत बड़ा हाथ है |

1950 में एस.डी.बर्मन किसी काम से किशोर कुमार के घर गए, तब किशोर कुमार सहगल गायक के style में गा रहे थे | बर्मन ने उनके गाने की खूब तारीफ कि मगर साथ में ये भी कहा “किशोर दुसरो के style में गाने से अच्छा है तुम अपना style develop करो” जिस से तुम्हे और फायदा होगा | किशोर कुमार ने उनकी दी गई सलाह पर अमल किया और अपना खुद का style बनाया जिसे आप Yodeling Style के नाम से जानते है |

किशोर कुमार के जीवन के बारे में पढने के लिए यहाँ Click करे – किशोर कुमार

1949 में फिल्म जिद्दी जिस में देवानंद Lead Actor थे, इस फिल्म में किशोर कुमार ने पहली बार पहला गाना गाया “मरने की दुआए क्यू मांगे” | ये गाना काफी popular हुआ | इस फिल्म से किशोर कुमार और देवानंद के रिश्ते की शुरुआत हुई | मगर किशोर कुमार के singing career को एक उछाल 1954 में फिल्म नौकरी से मिला |

1954 में बिमल रॉय ने किशोर कुमार को अपनी फिल्म नौकरी में Lead Actor के रूप में लिया | इस फिल्म के Music Director सलिल चौधरी ने शुरुआत में किशोर कुमार को इस फिल्म के गाना गाने से मना कर दिया क्युकि किशोर कुमार ने संगीत की कोई भी training नही ली हुई थी मगर बाद में जब उन्होंने किशोर कुमार की आवाज़ सुनी तो वो किशोर कुमार से गाने गवाने के लिए राज़ी हो गए | किशोर कुमार से फिर ये गाना गवाया गया जो की काफी popular हुआ “छोटा सा घर होगा बादलो की छाव में” | इस तरीके से किशोर कुमार के singing career की शुरुआत हुई | 1957 में आशा फिल्म में उनका गाया गया गाना आज तक सब को याद है “ईना मीना डीका

उसके बाद किशोर कुमार hit पे hit song bollywood industry को देते चले गए | आज भी किशोर कुमार को शानदार गायक के रूप में याद रखा जाता है | किशोर कुमार की unique voice हमेशा हमारे दिल में रहेगी |

ये Post आप को कैसा लगा हमें जरुर comment कर के बताए |

 

Sharing is caring! Share the post to your loved ones

11 thoughts on “Kishor Kumar: The Great Singer -किशोर कुमार ने अपने Singing Career की कैसे करी शुरुआत”

  1. Hello, i read your blog occasionally and i own a similar one and i was just curious if you get a lot
    of spam comments? If so how do you stop it, any plugin or anything you can advise?
    I get so much lately it’s driving me mad so any assistance is very much appreciated.

  2. I know this if off topic but I’m looking into starting my own weblog and was curious what all is
    required to get set up? I’m assuming having a blog like yours
    would cost a pretty penny? I’m not very web smart so I’m not 100% sure.
    Any suggestions or advice would be greatly
    appreciated. Kudos

Leave a Reply

Your email address will not be published.