Article on Relationship in hindi: रिश्तों की अहमियत समझे

ज़रा सोचे कि आप अपने ज़ीवन के आखिरी पल को ज़ी रहे है उस समय आप किस से बात करना चाहेंगे या किस के साथ उस पल को जीना चाहेंगे? आप को अपने इस सवाल का ज़वाब मिल गया होगा आप किसी अपने के साथ उस पल को ज़ीना चाहेंगे कोई अपनी माँ के साथ तो कोई अपने जीवन साथी के साथ तो कोई अपने बच्चो के साथ. अपने आखिरी पल में हर कोई अपनो की कीमत समझता है अगर इस कीमत का एहसास सब को पहले हो जाए तो सब हर रिश्तों कि कदर जरुर करेंगे
Continue reading “Article on Relationship in hindi: रिश्तों की अहमियत समझे”

अगर आप ज़ीवन में सफल होना चाहते है तो इन 10 बातो को ना करे

Tips for Success in your Life

अगर आप ज़ीवन में सफल होना चाहते है तो आप को अपने आप को सफलता के लिए तैयार करना होगा अपने में थोड़ा बद्लाव करके आप ज़ीवन में सफल हो सकते है ज़ीवन में अगर आप इन 10 बातो को ना करे तो आप सफलता को जल्द ही पा जाओगे ज़ीवन में कुछ पाने के लिए कुछ छोड़ना भी पड़ता है Continue reading “अगर आप ज़ीवन में सफल होना चाहते है तो इन 10 बातो को ना करे”

Work upon yourself – Personal Development – ख़ुद पर काम करे

You have to work upon yourself – Personal Development

आप को उस से ज्यादा मिल सकता है जो आप के पास है
क्युकि आप उस से ज्यादा हो सकते हो जो आज आप हो
Continue reading “Work upon yourself – Personal Development – ख़ुद पर काम करे”

बुरे वक्त में याद रखे ये बाते- How to deal with bad time

हम सब अपने जीवन में हर वक्त किसी ना किसी बात में उलझे रहते है जिस वक्त कोई खुशियो के बहुत करीब होता है उसी वक्त किसी और पर गम का समा छाया होता है सही कहा है कहने वाले ने: वक्त सभी का एक सा नही होता.

“कही छाह तो कही धुप है, कही खुशी तो कही गम,

 ज़िंदगी का बस यही फसाना, ना तेरी सगी ना मेरी” Continue reading “बुरे वक्त में याद रखे ये बाते- How to deal with bad time”

Know about Yogi Aditya Nath and Gujrat muslim yogi GulabNath connection

Yogi Aditya Nath is well known to every body and every body knows that he is anti Muslim person but very few know that He personally help every body even Muslim also, Many shops in the Gorakhnath temple are run by Muslims and even many fast friend and supporters are from Muslim background. One of the example of the same is Gulab nath who is muslim , the age difference of the both have very much but the souls of both were connected so deeply that at the time of death of Gulab nath , Yogi Aditya Nath even did not drink water for 3 days and take all the work on his hand to handel the problems after him. They were also called by Guru Bhai.

Now what is the story behind Yogi Adityanath and Gulab nath.

Gulab nath maharaj urf Gul Muhammad khan was from banaskatha and belongs to Pathan Muslim family . His forefathers were from Afghanistan and came to Gujrat from there. He was main person in Visanagar Peeth. Yogi respect Gulab Nath as his elder brother. He connected with Nath sampraday and become Gulab nath from Gul Muhammad. Mahant Avaidyanath was the connecting person between both of them and both Gulab nath and Aditya nath were very close to Avaidyanath.

Read and know more about Mahant Yogi Aditya Nath

Inspirational quotes of Hari Vansh Rai Bachchan

Kabhi phulo ki tarah mat jina, Jis din khiloge tutkar bikhar jaoge, jeena hai to phattar ki tarah jio, ek din tarashe gaye to bhagwan ban jaoge. Continue reading “Inspirational quotes of Hari Vansh Rai Bachchan”