बुरे वक्त में याद रखे ये बाते- How to deal with bad time

howtodealwithbadtime

हम सब अपने जीवन में हर वक्त किसी ना किसी बात में उलझे रहते है जिस वक्त कोई खुशियो के बहुत करीब होता है उसी वक्त किसी और पर गम का समा छाया होता है सही कहा है कहने वाले ने: वक्त सभी का एक सा नही होता.

“कही छाह तो कही धुप है, कही खुशी तो कही गम,

 ज़िंदगी का बस यही फसाना, ना तेरी सगी ना मेरी”

बुरे वक्त में याद रखे ये बाते

ज़िंदगी दर्द और नाकामी दोनों का हिस्सा है

हर बुरे वक्त कि तरह ये वक्त भी गुजर जाएगा

चिंता करने और ज्यादा सोचने से कुछ नही बदलता

आपके ज़ख्म आपकी ताकत की निशानी है

दुसरो कि सोच को अपने ऊपर प्रभावित ना होने दे

जो होना है वो हो के ही रहेगा रुको नही चलते रहो क्युकि यही जीवन है

also read – Try to Cry

“मुश्किलों से भाग जाना आसान होता है

हर समह जीवन का इम्तिहान होता है

भागने वालो को मिलता नही कुछ ज़िंदगी में

लड़ ने वालो के कदमो में जहानं होता है”

also read – वक़्त को वक़्त नही लगता बदलने में – Hindi Poem

Sharing is caring! Share the post to your loved ones

4 thoughts on “बुरे वक्त में याद रखे ये बाते- How to deal with bad time”

  1. Wow that was unusual. I just wrote an incredibly long comment but after I clicked submit my comment didn’t show up. Grrrr… well I’m not writing all that over again. Regardless, just wanted to say superb blog!

  2. I just need to tell you that I am new to online blogging and completely valued your post. Probably I am most likely to save your blog post . You simply have excellent article materials. Appreciate it for giving out with us your current domain webpage

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *